menu

अमेरिका में अध्ययन के लिए आपके 5 कदम

एजुकेशन यूएसए आपके लिए लाया है, अमेरिका में शिक्षा के लिए पांच कदम, अमेरिका में उच्च शिक्षा संस्थानों को समझने, तैयारी करने, आवेदन करने और प्रवेश हासिल करने की कदम दर कदम प्रक्रिया।

विदेश में शिक्षा लेने के मामले में अमेरिका भारतीय विद्यार्थियों की सबसे पसंदीदा जगह है। स्टूडेंट एंड एक्सचेंज विजिटर प्रोग्राम के बारे में अमेरिकी इमिग्रेशन एंड कस्टम एनफोर्समेंट के अप्रैल 2014 के आंकड़ों के मुताबिक एक लाख तेरह हजार से ज्यादा भारतीय विद्यार्थी इस वक्त अमेरिका में पढ़ाई कर रहे हैं, जो भारत को अमेरिका भेजने वाले छात्रों के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश बनाते हैं। आंकड़े अपनी जगह हैं लेकिन इस बात पर लोगों के मन में अब भी भ्रम है कि अमेरिका के कॉलेजों या विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए क्या करना पड़ता है। काफी संख्या में अमेरिकी संस्थान पढ़ाई के कई विकल्प देते हैं जिस कारण छात्रों को अपने लिए सही पाठ्यक्रम चुनने में मुश्किल आती है। कई बार रैंकिंग और दूसरों से मिली जानकारी के आधार पर खराब चयन हो जाता है।

इस प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए एजुकेशन यूएसए आपके लिए लाया है, अमेरिका में शिक्षा के लिए पांच कदम, अमेरिका में उच्च शिक्षा संस्थानों को समझने, तैयारी करने, आवेदन करने और प्रवेश हासिल करने की कदम दर कदम प्रक्रिया।

1. अपने विकल्पों पर शोध करें 

संभावित दाखिले की तारीख से 12 से 18 महीने पहले

सर्वश्रेष्ठ कॉलेज या विश्वविद्यालय वह है जो आपकी शैक्षणिक, वित्तीय और निजी जरूरतों के अनुरूप हो। शैक्षणिक स्थिति के आधार पर आपके लिए किस तरह का संस्थान उचित है? आप अपना वित्तीय प्रबंधन कैसे करेंगे?, आप अमेरिका में पढ़ाई क्यों करना चाहते हैं? ऐसे सवालों के जवाब शुरुआत में ही तलाश कर अपनी प्राथमिकताएं तय करें और अपने फायदे और लंबी अवधि के लक्ष्यों की सूची तैयार करें। इसके बाद अपना शोध शुरू करें। एजुकेशन अमेरिका केंद्र छात्रों को शोध करने और अपनी पसंद तय करने में मदद और जरूरी सलाह दे सकते हैं।  

2. अपना आवेदन पत्र तैयार करें 

प्रवेश की तारीख से 6 से 12 महीने पहले

आवेदन पैकेज में वक्त, तैयारी और योजना की जरूरत होती है। इस प्रक्रिया की शुरुआत जल्द करने से छात्रों को फायदा होता है। ज्यादातर अमेरिकी स्कूल आवेदनों का गहराई से आकलन करते हैं, जिसका अर्थ है कि फैसला कई मानकों और संपूर्ण आवेदन पैकेज की बेहतरी के आधार पर होता है। इस मामले में शैक्षणिक रिकॉर्ड, मानक टेस्ट में स्कोर, संस्तुति पत्र, पाठ्यक्रम से इतर गतिविधियां, आवेदन पत्र के साथ प्रस्तुत निबंध और कार्य अनुभव खासी अहमियत रखते हैं।

3. वित्तीय संसाधन जुटाना 

प्रवेश की तारीख से 3 से 9 महीने पहले

अमेरिका में पढ़ाई पर शिक्षा शुल्क के तौर पर 20 हजार डॉलर से 70 हजार डॉलर तक का खर्च आता है। यह पाठ्यक्रम, जगह और किस तरह का संस्थान है (जैसे सरकारी या निजी) पर र्निभर करता है।  यह जरूरी है कि जितनी जल्दी हो सके, अपने वित्तीय संसाधनों के प्रबंधन का काम शुरू किया जाए। हर साल अंतरराष्ट्रीय छात्रों को पढ़ाई के लिए वित्तीय मदद मिलती है लेकिन यह सीमित संख्या में होती हैं। इसके लिए काफी कड़ी प्रतियोगिता भी होती है। वित्तीय मदद स्कॉलरशिप, अनुदान, फेलोशिप, असिस्टेंटशिप, इंटर्नशिप और ऑन कैंपस नौकरी के जरिए दी जाती है। वित्तीय मदद  के लिए आवेदन प्रवेश के आवेदन के साथ किए जाते हैं।

4. वीज़ा के लिए आवेदन

प्रवेश की तारीख से 3 से 5 महीने पहले

वीज़ा के आवेदन की प्रक्रिया शुरू करने के लिए आपके पास अमेरिकी संस्थान से भेजा गया प्रवेश पत्र और आई-20 फॉर्म होना चाहिए। सभी विद्यार्थियों को उनके क्षेत्र में काम कर रहे कॉन्सुलर ऑफिस में इंटरव्यू के लिए स्वयं उपस्थित होना पड़ता है। सारी प्रक्रिया और जरूरतों की विस्तृत जानकारी कॉन्सुलेट की वेबसाइट पर मौजूद होती है। एजुकेशन अमेरिका के सलाहकार भी कॉन्सुलेट के अधिकारियों के साथ मिलकर संभावित विद्यार्थियों को जानकारियां और मदद उपलब्ध कराते हैं। विद्यार्थियों को वक्त-वक्त पर जानकारियां देने के लिए होने वाले कार्यक्रमों का फायदा उठाने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाता है।

5. जाने की  तैयारी

प्रवेश की तारीख से 2 से 4 महीने पहले

एजुकेशन अमेरिका परामर्श केंद्रों में विदेश रवानगी से पहले शुरुआती जानकारियां मुहैया कराने के प्रोग्राम आयोजित करता है। परामर्शदाता आपको नए अनुभवों का सामना करने में मदद करने के लिए जरूरी जानकारियां और संसाधनों के बारे में बताते हैं। दोनों देशों की संस्कृतियों में अंतर, क्लासरूम में उम्मीदें, आवास, नए सांस्कृतिक माहौल के अनुरूप ढलने और अपने दौरे के लिए क्या-क्या सामान पैक करना है, जैसे मुद्दों पर बात की जाती है।

एजुकेशनयूएसए में दिए जाने वाले समूह सलाह सत्रों में हिस्सा लेकर आज ही शुरुआत करें। इन सत्रों में ऑनलाइन और निजी तौर पर उपस्थित होकर हिस्सा लिया जा सकता है। एजुकेशनयूएसए, अमेरिकी विदेश विभाग की मदद से चलाए जा रहे परामर्श केंद्रों का नेटवर्क है, जो अंतरराष्ट्रीय छात्रों को मान्य अमेरिकी उच्च शिक्षा संस्थानों में आवेदन करने के लिए सटीक, विस्तृत और नवीनतम जानकारियां उपलब्ध कराता है। भारत में बेंगलुरु, चेन्नई, नई दिल्ली,  हैदराबाद, कोलकाता और मुंबई में एजुकेशनयूएसए के केंद्र काम कर रहे हैं।

www.educationusa.info/India पर जाएं और अपने नजदीक के परामर्श केंद्र का पता लगाएं।