menu

स्वच्छ रहें, स्वस्थ रहें

पांच तरीके जिनसे आपके आसपास का वातावरण स्वच्छ रहेगा (और आप खुद भी स्वस्थ रहेंगे)।


आप जानते हैं कि लोग कहते थे कि स्वच्छ रहना लगभग धर्मनिष्ठ होने की तरह है? नई सहस्राब्दी के लिहाज से हमें पुरानी कहावत को मांजने की जरूरत है, ताकि हम कह सकें कि ‘‘स्वच्छ रहना स्वस्थ रहने के लिहाज से बहुत अहम है।’’ यहां हम वे पांच आसान और असरदार तरीके बता रहे हैं जो आपके घर और दफ्तर को साफ-सुथरा रखेंगे, यानी आप और आपके परिजन सहेतमंद रहेंगे।

1. गंदे बर्तन = हानिकारक जीवाणु
आप यह जानकर भौंचक रह जाएंगे कि रात को गंदे बर्तनों को साफ करने के बावजूद सिंक में कितने सारे जीवाणु रह जाते हैं। जो जीवाणु आपके सिंक में पैदा होते हैं, वे आपके हाथों, बर्तन साफ करने वाले स्पंज या स्कर्ब और इससे भी बदतर आपके भोजन के संपर्क में आ सकते हैं। इसलिए दिन में एक बार अपने सिंक को ब्लीच व पानी से अच्छी तरह से धोएं और उसे सूखने दें। इससे जीवाणु भी खत्म हो जाएंगे!

2. टूथब्रश को सूखने दें और ऊंची जगह रखें
हर रोज इस्तेमाल के बाद अपने टूथब्रश को न सिर्फ सूखा रखने की जरूरत है, बल्कि वॉशरूम को भी बिल्कुल स्वच्छ रखना चाहिए। यह सामान्य-सी बात लग सकती है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि जब आप टॉयलेट को फ्लश करते हैं, तो इसके दो घंटे बाद तक पूरे वॉशरूम में जीवाणु तैरते रहते हैं? टूथ्रब्रश को रखने की सबसे बढि़या जगह है आलमारी। वहां यह सूख पाएगी और जीवाणुओं से सुरक्षित रहेगी। इसलिए टूथब्रश को अपनी नज़रों से दूर रखें- और जीवाणुओं को दिमाग से।

3. जहां-जहां हाथ लगे, वहां-वहां जीवाणु 
सोचिए कि आप दिन भर में कितनी सारी चीजों को अपने हाथों से छूते हैं। फिर आप यह सोचिए कि आपके घर के लोग किन-किन चीजों को हाथ लगाते हैं, यहां हम घरेलू चीजों की बात कर रहे हैं। मसलन, दरवाजे के हैंडल, पावर स्विच, कंप्यूटर की-बोर्ड (घर और द़फ्तर, दोनों जगह) और सबसे अधिक रिमोट कंट्रोल। इन चीजों की हमेशा सफाई करते रहना आपका विवेकपूर्ण कदम होगा, क्योंकि ऐसा करके आप घर के सदस्यों और द़फ्तर में सहयोगियों की सेहत की रक्षा करेंगे।

4. दो बार बोलें हैपी बर्थ-डे ...
इसमें कोई दोराय नहीं कि अपनी सेहत का खयाल रखते हुए आप अपने हाथ बार-बार धोते रहते हैं। लेकिन जरा ठहरिएः साबुन की कुछ बूंदें अपनी हथेली पर गिराकर उन्हें झट-से टोंटी के नीचे धो डालना काफी नहीं है। साबुन के झाग में अपने हाथ को मलें, कम से कम इतनी देर कि आप दो बार हैपी बर्थ-डे गा सकें। यानी कम से कम 20 सेकंड तक तो हाथ जरूर मलना चाहिए। तभी सही मायने में आपका अगला बर्थ-डे स्वस्थप्रद होगा।

5. ठहरा हुआ पानी फेंक दें
सभी जानते हैं कि बिस्तर के आस-पास मच्छर मारने वाला स्प्रे करना चाहिए और मच्छरदानी लगाकर सोना चाहिए, ताकि मच्छरों को शरीर से दूर रखा जा सकें। क्योंकि वे डेंगू या मलेरिया की सौगात हमें दे सकते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि स्थिर पानी में मच्छर हजारों की संख्या में अंडे देते हैं? ऐसा पानी घर के भीतर अनेक जगहों पर हो सकता है, मसलन फूलदानों, पालतू जानवरों के पानी रखने के बर्तनों या फिर मछलीघर में। इन बर्तनों के पानी को सप्ताह में एक बार ज़रूर बदलना चाहिए और उन्हें अच्छी तरह से साफ करना चाहिए, ताकि रोगों की गिरफ्त में आने से बचा जा सके। इस तरह आप मच्छरों को यह पैगाम देंगे कि उनका आपके घर में कतई स्वागत नहीं होने वाला!

 


एन वॉल्स लॉस एंजिलिस, कैलि़फोर्निया में िफल्म निर्माता और लेखिका हैं।