menu

और लेख

  • रिवाइव एलायंस असंगठित क्षेत्र में भारत के छोटे कारोबारियों और कामगारों की आर्थिक बेहतरी के लिए काम में जुटी है, जिनकी आजीविका कोविड-19 महामारी के कारण प्रभावित हुई।

  • अमेरिकी दूतावास की सहायता से चलने वाली तमाम पहलों के माध्यम से उत्तर भारत की महिला उद्यमियों को फायदा हो रहा है।

  • हार्दिका शाह की किनारा कैपिटल महिला उद्यमियों समेत, हाशिए पर पड़े छोटे कारोबारों को बिना कुछ गिरवी रखे कर्ज मुहैया कराती है।

  • क्षमा फर्नांडिस के नेतृत्व में चलने वाली कंपनी नॉर्दर्न आर्क कैपिटल भारत में वंचित परिवारों और व्यवसायों को वित्तीय सहायता तक पहुंच उपलब्ध कराती है।

  • पूर्णिमा खंडेलवाल के आईएनआई फार्म्स ने 5000 छोटे भारतीय किसानों को एक अभिनव योजना फार्म टू फोर्क मॉडल के तहत दुनिया के खुदरा खाद्य विक्रेताओं के साथ जोड़ा है।

  • कारोबारी दुनिया के नेतृत्व में जेंडर विविधता के कारण कंपनियों के लिए संवाद और नेटवर्किंग में विस्तार, नया नज़रिया, समस्या समाधान का बेहतर कौशल और अहम चिंतन जैसी तमाम संभावनाएं और लाभ के अवसर पैदा होते हैं।

  • फुलब्राइट-नेहरू फेलो लॉरेन वीक ने परामर्श से जुड़े विभिन्न पहलुओं और भारत के उद्यमिता परिदृश्य पर इसके संभावित प्रभाव पर शोध किया है।

  • भारत और अमेरिका में कानूनी और कारोबारी विशेषज्ञ विजित चाहर ने उन विशेषताओं को रेखांकित किया है जो अमेरिकी बाज़ार में सफल होने के लिए किसी स्टार्ट-अप में होनी चाहिए।

  • कोलकाता में अमेरिकी कांसुलेट जनरल की अगुवाई में महिला उद्यमियों के अभिनव उत्साह और कारोबार के विकास को दिशा देने के लिए एक अनोखा प्रशिक्षण शिविर हाइब्रिड स्वरूप में आयोजित किया गया।

  • भारत में छतों पर सौर ऊर्जा के उपकरण लगाने के लिए यूएसएड और डीएफसी ने कर्ज देने का कार्यक्रम शुरू किया है जिससे यहां भरोसेमंद स्वच्छ और किफायती ऊर्जा के स्रोत का दायरा बढ़ेगा।

  • अमेरिका में निवेश की योजना बना रही कंपनियों की मदद के लिए उपलब्ध है मददगार साथी: सलेक्टयूएसए।

  • अमेरिकी विदेश विभाग के प्रोग्राम के तहत पूर्वोत्तर भारत की महिला उद्यमियों को अपने उपक्रमों को बढ़ाने, पूंजी जुटाने और साथी कारोबारियों से नेटवर्किंग करने के लिए प्रशिक्षित किया गया।

  • मुंबई स्थित ‘‘आकार’’ ने माहवारी के दौरान स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए किफायती और पर्यावरण अनुकूल उत्पादों को तैयार किया है।

  • नेक्सस स्टार्ट-अप हब में प्रशिक्षण पाने वाले बायो क्रा़फ्ट इनोवेशंस द्वारा बनाए सदाजीवी बांस के रेशों के उत्पाद से प्लास्टिक के एकल उपयोग में कमी आई है।